Click here online shopping

Saturday, July 20, 2019

प्रिया रानी राय डिग्री कॉलेज बैरगनिया सीतामढ़ी का नाम  " मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना :- मुख्यमंत्री बालिका (स्नातक) प्रोत्साहन योजना " कॉलेज सूची में दर्ज किया जाए :- मोहम्मद कमरे आलम

प्रिया रानी राय डिग्री कॉलेज बैरगनिया सीतामढ़ी का नाम  " मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना :- मुख्यमंत्री बालिका (स्नातक) प्रोत्साहन योजना " कॉलेज सूची में दर्ज नहीं है जिस कारण उक्त योजना में बालिका आवेदन नहीं दे पा रही है और उक्त योजना के लाभ से वंचित हो रही है।


अतः कॉलेज सूची में उक्त योजनान्तर्गत उक्त कॉलेज का  नाम  दर्ज करने की कृपा करें।

धन्यवाद

मोहम्मद कमरे आलम

सीतामढ़ी

मोबाइल 9199320345

Friday, July 19, 2019

सीतामढ़ी 17 वरीय पदाधिकारियो को 17 प्रखंडों की जबाबदेही

सीतामढ़ी । बाढ़ राहत में 17 वरीय पदाधिकारियो को 17 प्रखंडों की जबाबदेही।कई कोषांगों का गठन। डीएम ने सबकी जबाबदेही तय की।सुबह-शाम डीएम को देगें रिपोर्ट ।

Saturday, June 22, 2019

एटीएम परिहार, एटीएम गार्ड के लिए बना कमाई का स्रोत

प्रखण्ड मुख्यालय परिहार में अवस्थित भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का एटीएम, एटीएम गार्ड सुनील कुमार के लिए कमाई का मुख्य स्रोत बन गया है।प्राप्त जानकारी के अनुसार  कैश तो रखा जाता है परन्तु एटीएम का सटर नहीं खुलता मगर एटीएम मशीन से कैश समाप्त हो जाता है।पता लगाने पर मालूम हुआ कि पैसे की ज़रूरत जिस को होती है वह एटीएम गार्ड सुनील कुमार से सम्पर्क करते हैं और वह पैसा लेकर एटीएम का सटर उठा कर अन्दर जाते हैं और सटर गिरा पैसे की निकासी करवा फिर एटीएम को बन्द कर देते हैं।बैंक प्रशासन को चाहिए कि ऐसे कर्तव्यहीन एटीएम गार्ड को सेवामुक्त कर कार्रवाई करें ताकि एटीएम की सेवा ग्राहक को सहज मिल सके।
परिहार अवस्थित SBI ATM को अक्सर बन्द देखा जा सकता है।अगर कभी खोला भी जाता है तो एक दो घंटा के बाद बन्द कर दिया जाता है एटीएम खुलने और बन्द होने का कोई समय निर्धारित नहीं है जब मन में आया खोला और जब चाहा बन्द कर दिया।एटीएम के सुचारू रूप में नहीं चलने में शाखा प्रबंधक और लेखापाल की संलिप्तता से इनकार नहीं किया जा सकता है।

Tuesday, June 18, 2019

चमकी बोखार :-ईंसफेलाईटिस

चमकी बोखार :-ईंसफेलाईटिस
📚📚📚📚📚📚📚📚
चमकी बुखार से बच्चो को बचाने के लिऐ बच्चो को
1- धुप से दुर रखे।
2-अधिक से अधिक पानी का सेवन कराऐ।
3-हलकासाधारण  खाना खीलाऐ ,बच्चो को जंक फुड से दुर रखे।
4-खाली पेट लिची ना खीलाऐ।
5-रात को खाने के बाद थोरा मिठा ज़रूर खिलाऐ।
6-घर के आसपास पानी जमा न होने दे ।किटनाशक दवाओ का छिरकाओ करे।
7-रात को सोते सम्यक मछर दानी का ईसतेमाल करे ।
8- पुरे बदन का कपरा पेहनाऐ।
9सरे गले फल का सेवन ना कराऐ ।ताज़ा फल ही खीलाऐ।
10- बच्चो के शरीर मे पानी की  कमी ना होने दें।अधिक से अधिक बच्चो को पानी पीलाऐ ।

लक्षण :-

बच्चो को -
1-अचानक  तेज बुखार आना।
2-हाथ पेर मे अकर्ण आना/टाईट होजाना ।
3-बेहोश होजाना।
4-बच्चो के शरीर का चमकना/शरिर का कांपना ।
5-शरीर पे चकत्ता निकलना ।
6-गुलकोज़ का शरीर मे कम होजाना । 
7-शुगर कम होजाना। ईत्यादि

ईंसफोलाईटिस/ चमकी बोखार 😮
यह बिमारी 10 साल तक के बच्चो को अधिक  अटेक कररहा है । आप अपने बच्चो का पुरा ध्यान रखे ,को ई भी लक्षण नज़र आइऐ ,तो शिघ्र हस्पताल पहुचे / डाक्टर से संप्रक करे।

  अपने बिहार मे जागरुकता फेलाने मे आप सहयोग करे और अधिक से अधिक शेयर करे । और न्नहे नवजातो की जान बचाने मे ऐक छोटा सा पहल करे ।
अपने ऐक ऐक नम्बर पर, गुरुप मे अपने परिवार ,रिशतेदारों और मित्रों को भेजे ।और जागरूकता फैलायें।

                    

Wednesday, June 12, 2019

आलिम व फाजिल की परीक्षा

आलिम व फाजिल की परीक्षा आज से
सीतामढ़ी। मौलाना मजहरुल हक अरबी - फारसी विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित होने वाली आलिम ( बीए ) प्रथम ईयर व द्वितीय खंड की परीक्षा आगामी 11से 19 जून तक होगी। परीक्षा के लिए मदरसा रहमानिया मेहसौल केन्द्र पर प्रथम पाली में 230 व दुसरी पाली में 208 छात्र- छात्रा परीक्षा में शामिल होंगे।वही मदरसा इस्लामिया अरबिया जामा मस्जिद कोर्ट बाजार केन्द्र पर प्रथम पाली में 303 व दुसरी पाली में 321 छात्र- छात्रा परीक्षा में शामिल होंगे होगी।दोनों केन्द्र पर 1062 छात्र छात्रा परीक्षा में शामिल होंगे।मदरसा रहमानिया मेहसौल के अध्यक्ष मो अरमान अली व मदरसा इस्लामिया के मौलाना मो तनवीर आलम ने संयुक्त रूप से बताया कि सीतामढ़ी व शिवहर दोनों जिलों के छात्रों को मिलाकर दो परीक्षा केंद्र बनाया गया है . परीक्षा दो पालियों में आयोजित की जाएगी . पहली पाली सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक व दूसरी पाली दोपहर दो से शाम पांच बजे तक आयोजित की जाएगी। फौकानिया व मौलवी की परीक्षा 1 जुलाई से 6 जुलाई तक परीक्षा आयोजित की जाएगी ।

Wednesday, June 05, 2019

शिक्षकों के वेतन भुगतान नहीं होने को डी एम ने गंभीरता से लिया, कार्रवाई की दी चेतावनी

शिक्षकों को समय पर वेतन भुगतान नही होने के मामले को डीएम ने गंभीरता से लिया है।उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि दो  दिनों के अंदर हरहाल में शिक्षकों के वेतन भुगतान सुनिश्चित करें। गौरतलब हो कि एक तरफ भुगतान की नई तकनीक सीएफएमएस में तकनीकी कारण से कुछ विलंब हो रहा है,वही डीपीओ स्थापना एवम जिला शिक्षा पदाधिकारी की छुट्टी पर जाने से भी विलंब हो रहा है।डीएम ने आदेश दिया है कि छुट्टी रद्द कर अविलम्ब शिक्षकों के बकाया वेतन भुगतान सुनिश्चित करे या कड़ी करवाई के लिए तैयार रहे।

Saturday, May 18, 2019

नियोजित शिक्षकों को समान काम समान वेतन मामले में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला न्यायपूर्ण नहीं

अंचल प्राथमिक शिक्षक संघ, परिहार की बैठक अध्यक्ष राशिद फ़हमी की अध्यक्षता में म0वि0,परिहार में हुई । अंचल मंत्री नंद किशोर मंडल ने कहा कि नियोजित शिक्षकों को समान काम समान वेतन मामले में सर्वोच्च न्यायालय का फैसला न्यायपूर्ण नहीं है, वहीं राम विभीषण पासवान ने इस संबंध में संघ की ओर से सर्वोच्च न्यायालय में पुनर्विचार याचिका दायर करने का प्रस्ताव दिया साथ ही पवित्र पर्व रमज़ान के अवसर पर सभी कोटि के शिक्षकों का वेतन भुगतान अविलंब करने की मांग की गई ।यह भी निर्णय लिया गया कि एक महीने के अन्दर सदस्यता शुल्क जमा कर संघ का चुनाव करा लिया जाय। बैठक में लक्ष्मी ना0 गुप्ता,विजय कुमार, मो0 शमीम अंसारी, अकरम जमाली, सीताराम ठाकुर, सालिम अनवर,महेश सिंह, रेयाज अहमद, विनय विहारी, रणधीर कुमार, हैदर अली अंसारी, उमा शंकर, जमाले मुस्तफा, राम नगीना बैठा, वृज बिहारी प्रसाद व अन्य शिक्षक उपस्थित थे।

Friday, May 17, 2019

मौलाना मंज़ूर अहसन अजाज़ी :- जंग ए आज़ादी का एक अज़ीम रहनुमा


मौलाना मंज़ूर अहसन अजाज़ी :- जंग ए आज़ादी का एक अज़ीम रहनुमा

मौलाना मंज़ुर अहसन अजाज़ी हिन्दुस्तान के उन चुनिंदा लोगों में से हैं जिन्होने ना सिर्फ़ मुल्क की आज़ादी के लिए जद्दोजेहद किया बल्के मुल्क के आज़ाद हो जाने के बाद भी बहुत बड़ी क़ुर्बानीयां दीं।

ज़िला मुज़फ़्फ़रपुर बिहार के शकारा थाना के डिहुली में 1898 में पैदा हुए मंज़ुर अहसन अजाज़ी के वालिद का नाम मौलवी हफ़ीज़उद्दीन हुसैन और वलिदा का बीबी महफ़ुज़उन्नीसां था, दादा हाजी इमाम बख़्श एक ज़मीनदार थे, और नाना रेयासत हुसैन सीतामढ़ी के एक क़द्दावर वकील थे।

इबतदाई तालीम जिसमे मज़हब की तालीम भी है घर पर ही हुई, फिर मदरसा ए इमदादिया दरभंगा से तालीम हासिल की, फिर मौलाना मंज़ुर अहसन अजाज़ी नार्थ ब्रुक ज़िला स्कुल दरभंगा मे दाख़िला लिया जहां से उन्हे अंग्रेज़ों का विरोध करने के वजह कर छोटे भाई मग़फ़ुर अहमद अजाज़ी के साथ स्कुल से निकाल दिया गया, ये 1913 का दौर था जब महज़ 15 साल की उम्र में इऩ्होने अंग्रेज़ मुख़ालिफ़ तहरीक में हिस्सा लिया।

मौलाना मंज़ुर अहसन अजाज़ी ने क़ौमप्रस्ती अपने वालिद हफ़ीज़ हुसैन से सीखी जो एक तरफ़ क़द्दावर ज़मींनदार थे तो दुसरी जानिब कट्टर अंग्रेज़ मुख़ालिफ़.. अपने लोंगो की हर तरह से हिफ़ाज़त वो अंग्रेज़ो से करते थे जिस वजह कर अपने अवाम मे बहुत ही मक़बुल थे।

1917 में गांधी की तहरीक से जुड़ने चम्पारण गए और साथ ही रौलेट एैक्ट के विरोध में आगे आगे रहे।

1919 में ख़िलाफ़त तहरीक के समर्थन में पुसा शुगरकेन रिसर्च इंस्टिचुट की जमी जमाई नौकरी छोड़ दी और खुल कर तहरीक ए आज़ादी में हिस्सा लेने लगे, इसी दौरान अजाज़ी साहेब अली बेरादरान के नज़दीक आए और इनके साथ मौलाना आज़ाद सुबहानी, अब्दुल मजीद दरयाबादी जैसे क़़द्दावर नेताओं से भी उनके तालुक़ात अच्छे हो गए।

1920 में कांग्रेस के कलकत्ता अधिवेशन में हिस्सा लिया जिसमें ख़िलाफ़त और असहयोग तहरीक के समर्थन में रिज़ुलुशन पास हुआ।

1920 में ही ऑल इंडिया ख़िलाफ़त कमिटी के स्क्रेट्री चुने गए और 1924 तक इस पद पर रहे,वोह मरक़ज़ी ख़िलाफ़त कमिटी के अहम स्तुन थे, अली बेराद्रान के साथ मिल कर ख़िलाफ़त कमिटी के क़याम मे नुमाया किरदार अदा किया।

1921 के दिसम्बर में पहली बार करांची ट्रायल के तहत जब अली बेराद्रान (शौकत अली और मुहम्मद अली), जगत गुरन शंकराचार्य वग़ैरा गिरफ़्तार हुए तो मौलाना मंज़ुर अहसन अजाज़ी बिहार के पहले कांग्रेसी थे जिन्हे इस धारा के तहत गिरफ़्तार किया गया, इस दौरान वो बक्सर, मुज़फ़्फ़रपुर, हज़ारीबाग़ सहीत कई जेलों में कई माह क़ैद रहे।

1922 में जेल से छुटते ही दिसम्बर में कांग्रेस के गया अधिवेशन में हिस्सा लेने जा पहुंचे, रेलवे स्टेशन पर ख़ुद गांधी जी और शौकत अली उनके स्वागत को पहुंचे थे।

1923 में बिहार प्रादेश कांग्रेस कमिटी के जवाईंट स्क्रेट्री चुने गए और इसी साल इन्होने पुर्णिया में बिहार पॉलिटिकल कांफ़्रेंस का आयोजन किया।

1930 में खुल कर नमक सत्याग्रह में हिस्सा लेने की वजह कर इन पर बंदिश लगा दी गई और गिरफ़्तार कर लिये गए, तक़रीबन 8 माह क़ैद रहे।

1940 में अपने छोटे भाई मग़फुर अहमद अजाज़ी की तरह मुस्लिम लीग की लाहौर रिज़्युलुशन का खुला विरोध किया।

1941 में 30 नवम्बर को आम जन के समर्थन में ख़ुद ही एक सत्याग्रह की क़यादत मुज़फ़्फ़रपुर में की, जिसकी वजह आप गिरफ़्तार कर लिये गए।

1942 में मुज़फ़्फ़रपुर लोकल बोर्ड के चेयरमैन चुने गए।

1942 में मुम्बई के उस इजिलास मे मौजुद थे जिसमें गांधी जी की क़यादत में युसुफ़ जाफ़र मेहर अली ने “अंग्रेज़ो भारत छोड़ो” का मारा दिया और अगस्त की क्रातिं शुरु हुई।

1942 के भारत छोड़ो तहरीक में आगे आगे रहे और पुरे बिहार का दौरा किया और अगस्त की क्रातिं को आम जन तक पहुंचाया, इसके बाद एक बार फिर गिरफ़्तार कर जेल भेज दिये गए, जहां ये चार सालो तक क़ैद रहे।

1947 में मुस्लिम लीग के उम्मीदवार के ख़िलाफ़ कांग्रेस के उम्मीदवार की हैसियत से पहली बिहार पॉलिटिकल सफ़र्र कॉन्फ़्रंस के चेयरमैन पंडित नेहरु की सदारत में चुने गए।

अलीपुर, अागरा क़िला जेल, बक्सर, मुज़फ़्फ़रपुर, गया, बांकीपुर, हज़ारीबाग़, मोतिहारी कैम्प जेल सहीत हिन्दुस्तान की कई जेलों में अपनी ज़िन्दगी के 13 साल गुज़ार दिये।

1957 में फ़तेहपुर बिहार से कांग्रेस के टिकच पर विधायक चुने गए और ये वो सीट थी जहां से कांग्रेस पहले कभी कामयाब नही हुई थी, 1962 तर इस पद पर बने रहे, और अवाम की भरपुर सेवा की और यहां तक कि अवाम की ख़ातिर अपने जानशीं को क़ुर्बान कर डाला पर कभी हिम्मत नही हारी, हमेशा मज़लुमों का साथ दिया और ज़ालिमों का मुक़ाबला किया।

17 मई 1969 को ये मर्द ए मुजाहिद 72 साल की उम्र में पटना में इंतक़ाल कर गया, जिनकी नमाज़ ए जनाज़ा अंजुमन इस्लामिया हॉल पटना में हुई और पीर मुहानी क़ब्रिस्तान में दफ़न कर दिया गया।

Md Umar Ashraf

Wednesday, May 15, 2019

जिला में 40-50 km/hrs की रफ्तार से तेज आंधी,वज्रपात के साथ वर्षा की संभावना

मौसम विभाग के अनुसार आज  दिनांक 15-05-19 को अभी 06:15 pm से अगले 2-3 घंटे के दौरान जिला में 40-50 km/hrs की रफ्तार से तेज आंधी,वज्रपात के साथ वर्षा की संभावना है।अतः सभी से अनुरोध है कि पूर्णतः सचेत रहे और जान माल की किसी भी क्षति पर आपदा प्रबंधन विभाग के प्रावधानों के तहत आवश्यक कार्रवाई अनिवार्य रूप से करना सुनिश्चित की जाए। किसी भी सहायता के लिए जिला आपात कालीन सहायता केंद्र को  फोन-06226 250316 पर तत्क्षण सूचित करें।
सादर,
प्रभारी ,
आपदा प्रबंधन।

सीतामढ़ी के परिहार प्रखण्ड का लाल मोहम्मद आमिर बना अपने स्कूल का टॉपर


सीतामढ़ी ज़िला के परिहार प्रखण्ड ग्राम:-परसण्डी निवासी मोहम्मद इलियास के पुत्र मोहम्मद आमिर ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड दिल्ली से 10th की परीक्षा 90.2 प्रतिशत से पास कर अपने स्कूल और सीतामढ़ी का नाम रौशन कर दिया है।मोहम्मद आमिर ने 10th की परीक्षा में सम्मिलित अपने सभी साथियों में सबसे अधिक नम्बर लाकर अपने स्कूल " शफ़ीक़ मेमोरियल सीनियर सेकण्डरी स्कूल बारा हिन्दू राव दिल्ली का टॉपर बन गया है।

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...