Click here online shopping

Wednesday, December 02, 2015

तत्कालीन डी पी ओ असगर अली की कर्तव्यहीनता से परिहार प्रखणड के तालिमी मरकज स्वयंसेवक अक्षर ऑचल से वंचित

परिहार  (सीतामढढ़ी)अनौपचारिक एवं नवाचारी शिक्षा कार्यक्रम, बिहार शिक्षा परियोजना सीतामढ़ी के अन्तर्गत तालिमी मरकज़ केन्द्र प्राथमिक विद्यालय एकडणडी उर्दू कन्या परिहार जिला सीतामढी केन्द्र सख्या 21/परिहार में फरवरी 2010 से शिक्षा स्वयंसेवक के रूप में कार्यरत था 10 दिसम्बर 2012 से सरकार के आदेशानुसार तालिमी मरकज़ का संचालन जन शिक्षा निदेशालय बिहार पटना के अधीन कर मुख्यमंत्री अक्षर आॅचल योजना से जोड़ दिया गया ।
सीतामढी जिला मे जिला कार्यक्रम पदाधिकारी साक्षरता ने फरवरी 2010 से कार्यरत शिक्षा स्वयंसेवक को जुलाई 2013 मे दो दिवसीय प्रशिक्षण दे कर मुख्यमंत्री अक्षर आंचल योजना से जोड़ दिए मगर मेरे केन्द्र को बिना किसी कारणों के अवैध राशि नही देने की वजह से छोड़ दिया ।मै कई आवेदन सम्बंधित पदाधिकारियों से लेकर मुख्मंञी बिहार पटना को दे चुका हूँ मगर आज तक कोई कार्रवाई नहीं हुई ।मेरे केन्द्र को मुख्यमंत्री अक्षर आॅचल योजना से नही जोड़े जाने की वजह से मेरे समक्ष भूखमरी की स्थिति उत्पन्न हो चुकी है।
अतः कार्रवाई करने की कृपा करें ।
विश्वास भाजन
मो कमरे आलम
एकडणडी परिहार सीतामढी
पिन 843324
मो 9199320345



Sent from my Samsung Galaxy smartphone.


Sent from my Samsung Galaxy smartphone.


Sent from my Samsung Galaxy smartphone.

No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...