Sunday, December 13, 2015

बैंक ऑफ इंडिया के कर्मी ने किया चेक की राशि का गबन


बैंक ऑफ इंडिया भिठ्ठामोड़ सीतामढ़ी के कर्मी ने चेक की राशि हड़प ली
---------------------------------------------------
परिहार सितामढ़ी(बिहार ) एक मुस्लिम युवक मो मुजफफर अंसारी पिता मो मंजूर अंसारी (मंजूर अंसारी बी आर सी परिहार मे चपरासी हैं )को उसके मालिक ने मजदूरी का 40हजार रूपय का Bearer cheque दिया था जिसको लेकर वह 26-10-15 Bank of India Bhitthamodh गया और भुगतान के लिए के चेक बैंक कर्मी धीरेन्द्र झा को दिया उसने कहा कि अभी बैंक मे पैसा नहीं है डेढ़ घंटा बाद आएं जब तक सीतामढ़ी से पैसा आ जाएगा और चेक अपने पास रखा लिया ।(मो मुजफफर अंसारी ने चेक पर अपना हस्ताक्षर नहीं किया था)
            डेढ़ घंटा बाद जब चेक के भुगतान के लिए गया तो कहने लगा चेक का भुगतान तो दूसरा आदमी ले गया है।बैंक कर्मी धीरेन्द्र झा ने bearar cheque पर किसी से हिंदी में हस्ताक्षर कराकर चेक की राशि का भुगतान लेकर राशि हड़प ली (मुजफफर उरदू में हस्ताक्षर करता है) मुजफफर को बैंक से बाहर कर दिया ।मो मुजफफर ने इस आशय का आवेदन शाखा प्रबंधक और थाने को दिया है मगर अभी तक कोई कार्रवाई नही हुई है और न ही राशि का भुगतना मुजफफर को किया गया है।
          सवाल ये पैदा होता है कि जब बैंक मे पैसा नही था तो चेक बैंक कर्मी ने अपने पास रखा क्यों ?


Sent from my Samsung Galaxy smartphone.

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...