Saturday, March 05, 2016

परिहार प्रखणड के विभिन्न पंचायतों में शिक्षक नियोजन घोटाला /जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना ने अपने पत्र को किया निरस्त ,नियोजन इकाई पर कोई असर नही ,दो माह बीत जाने के पश्चात भी सचिव ने नही किया नियोजन रद्द

Edited by Md Qamre Alam
Report Md Dulare
परिहार( सीतामढ़ी ):प्रखणड के विभिन्न पंचायतों में इन दिनों जिला कार्यक्रम पदाधिकारी  (स्थापना ) सीतामढ़ी शिक्षा विभाग की मिली-भगत से पंचायत सचिव -सह-नियोजन इकाई ग्राम पंचायतों के द्वारा शिक्षक नियोजन 2008 के रिक्तियो के विरुद्ध पंचायत शिक्षकों का नियोजन मोटी रक़म लेकर किया गया है और किया जा रहा है।
●परिहार ब्लाँक जिला सीतामढ़ी बिहार- शिक्षक बहाली बना रहस्य
●प्रखंड से लेकर जिला स्तर के पदाधिकारी व मीडिया तक ख़ामुश
जिला शिक्षा कार्यक्रम पदाधिकारी( स्थापना )के पत्रांक 122(डीईओ)दिनांक 22/1/16 के पत्र के आलोक में नरगाँ उतरी पंचायत में पंचायत सचिव -सह -नियोजन इकाई नें वर्ष 2008-10 में आवेदन किये वैसे अभ्यार्थी को नियोजन पत्र दिया गया है जो कट आॅफ मार्कस के अंतर्गत भी नही आते हैं।पुन:जिला शिक्षा कार्यक्रम  पदाधिकारी के पत्रांक-462(डीईओ)दिनाक-18/2/16 के आलोक में प्रखंड के परसंडी ,परिहार दक्षिणी ,व परिहार उतरी पंचायत मे भी वैसे ही आवेदक को नियोजन पत्र दिया गया है कुल मिलाकर एक दर्जन से अधिक को अवैध रुप से पंचायत शिक्षक में बहाली की गई है और सबसे बड़ी बात ये है कि चारो पंचायत में एक ही पंचायत सचिव -सह -नियोजन इकाई श्री योगेंद्र राम नें ही नियोजन किया है ।मामला डीएम के संज्ञान में आने के बाद जिला शिक्षा कार्यक्रम पदाधिकारी नें पत्रांक 585 दिनांक 27/2/2016 व पत्रांक-588 दिनांक 29/02/2016 पत्र निर्गत कर नियोजन को निरस्त करने का आदेश सचिव -सह- नियोजन इकाई को दिया है पत्र में साफ लिखा है कि तथ्य को छुपाकर बगैर टीईटी उत्तीर्ण अभ्यार्थियो का नियोजन कर दिया गया है।  हैरानी की बात यह है की पत्र निर्गत हुए एक महीने से ज्यादा हो चुका है लेकिन नियोजन इकाई ने अभी तक नियोजन को निरस्त नही किया है।
जानकारो का कहना है ऐ सब मोटी रक़म का कमाल है इस गोरख -धंधे मे डीपीओ (स्थापना ) की संलिप्तता है और ये ही इस पूरे प्रकरण के मास्टर माइंड हैं।पत्र की प्रतिलिपि आवश्यक   कार्रवाई हेतु बीडीओ और प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को भी भेजी गई है मगर कार्रवाई  के नाम पर सब मौन हैं और अवैध रूप से नियुक्त शिक्षक विद्यालयों में ड्यूटी बजा रहे हैं ।
●जिला कार्यक्रम पदाधिकारी स्थापना का पत्रांक 462 (डीईओ) 18/02/2016 को निर्गत होता है और नियोजन का पत्र 20/02/2016 को निर्गत होता है इतनी तत्परता बहुत कम देखने को मिलता है ।
●जानकारो कहना हैकि एक-एक अभ्यार्थी से 3 लाख से लेकर 7 लाख लेकर नियोजित किया गया है।
                   

नियोजित शिक्षकों ने फूंका शिक्षा मंत्री का पुतला ----

परिहार  (सीतामढ़ी ): लंबित वेतन का भुगतान नहीं करने व शिक्षकों की समस्याओं का निदान नहीं किए जाने से आक्रोशित नियोजित शिक्षकों ने बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के बैनर तले नगर स्थित कारगिल चौक पर शिक्षा मंत्री डा. अशोक चौधरी का पुतला दहन किया। वहीं सरकार विरोधी नारे लगाते हुए आंदोलन को धारदार बनाने का निर्णय लिया। इसके तहत आगामी 28 मार्च को जिला मुख्यालय में मशाल जुलूस निकालने व 30 मार्च को विधान सभा का घेराव करने का निर्णय लिया गया। प्रदेश उपाध्यक्ष नवीन कुमार ¨सह, जिलाध्यक्ष प्रकाश कुमार व अर¨वद कुमार ने संयुक्त रुप से कहा कि सरकार की दोहरी नीति से नियोजित शिक्षकों में आक्रोश है। पिछले पांच माह से वेतन भुगतान नहीं किए जाने से शिक्षकों के समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। सरकार की शिक्षा व शिक्षक विरोधी नीति से सूबे की शिक्षा व्यवस्था चरमरा गई है। सूबे के चार लाख नियोजित शिक्षक गुणवत्तापूर्वण शिक्षा के लिए कृत संकल्पित है। वहीं सरकार व विभाग शिक्षकों को गुमराह कर उनपर मनोवैज्ञानित रुप से परेशान कर रही है। सरकार की दोहरी नीति से नियोजित शिक्षकों के समक्ष आर्थिक तंगी की समस्या उत्पन्न हो गई है। विभागीय अधिकारी द्वारा शिक्षकों की समस्याओं का निदान नहीं किया जा रहा है उल्टे परेशान किया जा रहा है। यदि शीघ्र की समस्याओं का निदान नहीं किया गया तो आंदोलन को धारदार बनाया जाएगा। इसके तहत आगामी 28 मार्च को जिला मुख्यालय पर मशाल जुलूस निकाली जाएगी। वहीं 30 मार्च को पटना पहुंचकर विधान सभा का घेराव किया जाएगा। मौके पर जिला उपाध्यक्ष शंभू ¨सह, सौदागर बैठा, रामबाबू ठाकुर, मो. एहतेशाम आरिफ, राजकुमार मिश्र, गोपाल प्रसाद, विश्वमोहन पांडेय, मो.आदिल, कुमार प्रणय, मो. फिरोज आलम, मधुरेन्द्र कुमार, रामकुमार, मुकेश कुमार, तारेकश्वर मंडल, रवि रंजन, मृत्युंजय कुमार, सोहन कुमार, प्रभाकर कुमार, राणा आकाशदीप, अमित कुमार, विकास आनंद, प्रवीण प्रकाश आदि ने अपने अपने विचार व्यक्त किए।

Thursday, March 03, 2016

किसान धान जलाने को मज़बुर

परिहार ब्लाॅक के किसानों के समक्ष धान जलाने की नौबत आ गई है। बिहार सरकार द्वारा किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदारी का समय सीमा 31-03-2016 निर्धारित किया गया था, परिहार ब्लाॅक में बी ○सी ○ओ○ के अभाव में धान खरीदारी पर असर पड़ रहा है, परिहार ब्लाॅक में अब तक  धान की खरीदारी दो हजार  क्लिंटन भी नही हुई है किसान धान बिक्री नही होने कि वजह से काफी चिन्तित हैं बिहार सरकार के माननीय सहकारिता मंत्री , आपूर्ति मंत्री एवं जिला पदाधिकारी सीतामढ़ी से  व्यापार मडंल एवं पैक्सो को धान खरीदारी का आदेश दिए जाने की मांग मोहम्मद सउद आलम अध्यक्ष व्यापार मंडल परिहार ने की है।

Tuesday, March 01, 2016

ग़ज़ल

जमील अख्तर शफीक़

वित्तीय वर्ष 2016-17 के केन्द्रीय बजट पर क्या सोचते है आप...?

🌈वित्तीय वर्ष 2016-17 के केन्द्रीय बजट पर क्या सोचते है आप...?
-------------------------------

⚡ राहुल गांधी ने कहा कि बजट से किसानों को मूर्ख बनाया गया है...

⚡बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का कहना है इस बजट से आम लोगो कोई राहत नहीं मिलेगा...

⚡राजद नेता लालू प्रसाद यादव ने कहां कि यह बजट जनता के साथ
धोखा है...
.
🔶आपकी क्या  राय है...?

प्रतिनियोजन रद्द शिक्षक के नाम बीडीओ परिहार ने किया चेक निर्गत

परिहार प्रखणड कार्यालय में प्रतिनियुक्त शिक्षक की प्रतिनियुक्ति  दिनांक  10-02-2016 को जिला कार्यक्रम पदाधिकारी( स्थापना ) द्वारा रद्द होता है और दिनांक 15-02-2016 को विद्यालय में योगदान होता है।पुनः दिनांक  24-02-2016 को प्रखंड विकास पदाधिकारी परिहार प्रतिनियोजन रद्द शिक्षक मारुफ आलम के नाम से विकलांग बच्चों के भुगतान हेतु चेक निर्गत करते है ।ये  क्या है ? ये मिलीभगत नही तो क्या है ?

बिहार विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. राजदेव सिंह का निधन

बिहार विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति डॉ. राजदेव सिंह का निधन
       ⚡बिहार भाजपा के कदावर नेता थें डॉ. सिंह
       ⚡सीवान के दरौली घाट पर संपन्न होगा दाह संस्कार
        ⚡सुशील मोदी समेत भाजपा के कई वरिष्ठ नेता होगे शामिल
         ⚡सीवान भाजपा के जिलाध्यक्ष प्रो. अभिमन्यू सिंह के पिता है डॉ. सिंह
============================

बिहार विश्वविद्यालय मुजफ्फरपुर के पूर्व कुलपति व भाजपा के वरिष्ठ नेता डाक्टर राजदेव सिंह का आज सोमवार को निधन हो गया ।
      डाक्टर सिंह बिहार भाजपा में कदावर नेता माने जाते थे । वें सीवान भाजपा के जिलाध्यक्ष प्रो. अभिमन्यू सिंह के पिता भी थे ।
      उनका दाह संस्कार दरौली घाट पर सांयकाल किया जाएगा ।
     बिहार भाजपा के नेता सुशील कुमार मोदी,प्रदेश अध्यक्ष मंगल पाण्डेय व बिहार विधानसभा में विपक्ष के डाक्टर प्रेम कुमार सहित भाजपा भाजपा कई नेता दाह संस्कार के समय दरौली घाट पर उपस्थित रहने वाले हैं ।
=============================

स्टेट बैंक से शिकायत

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) से शिकायत हो या आपका काम नहीं हो रहा है या आपको बार-बार चक्कर लगवा रहे हो या पासबुक में इंट्री नहीं करते हो तो
UN Happy लिखकर इस नंबर 8008202020 पर मेसेज कर देवे ।
उसके बाद SBI के हेड ऑफिस से आपके पास फोन आएगा उन्हें अपनी शिकायत बता दीजिये । उसके बाद SBI शाखा वाले आपसे संपर्क करके कार्य करेंगे । इस मेसेज को अपने दोस्तों परिवार के सदस्यों एवं SBI से परेशान लोगो को अवगत कराये ।

Monday, February 29, 2016

बजट में शिक्षा को प्राथमिकता

Dr. Ashok Choudhary

महागठबंधन सरकार के पहले बज़ट में शिक्षा को प्राथमिकता सरकार के सार्थक सोंच का उदाहरण ..

बिहार विधान सभा में वित्तीय वर्ष 2016- 17 का बजट महागठबंधन सरकार के वित्तमंत्री ने पेश किया। जैसा कि हमने प्रदेश की जनता से वादा किया था, और जिस उद्देश्य की पूर्ति, राज्य के सर्वांगीण विकास का हमने प्रण लिया था बज़ट बिलकुल उसके अनुरूप है।

कुल बजटीय प्रावधान 1 लाख 44 हज़ार 696 करोड़ रूपये का है, जिसमें सबसे अधिक राशि शिक्षा विभाग को 21,897 करोड़ का प्रावधान किया गया है। वहीँ सूचना एवं प्रावैधिकी विभाग को 272 करोड़ 56 लाख की राशि का 2016 - 17 के बज़ट में प्रावधान किया गया।

महागठबंधन सरकार जन आकांक्षाओं को पूरा करने में पहले दिन से हीं पूरी निष्ठा व ईमानदारी से जुटी है। चुनाव पूर्व जिन सात निश्चयों को हमने पूरा करने का वादा किया था। उस पर अक्षरसः अमल हो रहा है।

शिक्षा को उच्चस्तरीय गुणवत्ता प्रदान करना मेरी प्रतिबद्धता है। मैंने पद ग्रहण करते समय हीं अपना विचार स्पष्ट कर दिया था। शिक्षा मात्र एक विभाग नहीं वरन् भविष्य निर्माण का मार्ग है, इसी उद्देश्य से काम कर रहा हूँ। मेरी भावनाओं और प्रण को पूरा पूरा सम्मान देने के लिये माननीय मुख्यमंत्री जी एवं वित्तमंत्री जी का अभिनंदन करता हूँ।

शिक्षकों का नियमित वेतन, सुचारू पठन- पाठन, उच्चस्तरीय शिक्षा का माहौल, बच्चों के प्रतिभा को उनके रूचि के अनुरूप निखारना, छात्रवृति, पोशाक, सायकिल मध्याह्न भोजन जैसी सरकारी योजनाओं को अक्षरसः लागू किया जायेगा। सरकार और शिक्षा विभाग बिहार को पुनः शिक्षा हब के रूप में स्थापित करेगी ये हमारा वादा है। एक बार फिर से देश विदेश में बिहार ज्ञान नागरी के रूप में पहचान कायम करेगा इसके प्रति हम पूरी तरह आशान्वित हैं।

पूरी तरह जनहित, विकास और हर क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए संतुलित बज़ट पेश करने के लिये। माननीय मुख्यमंत्री, वित्तमंत्री, मंत्रिमंडल के सभी मंत्रीगण और प्रदेश की जागरूक जनता को बधाई देता हूँ। यह बज़ट बिहार को समृद्ध और विकसित बनाने की दिशा में मिल का पत्थर साबित होगा।

डॉ अशोक चौधरी
मंत्री (HRD & IT)
बिहार सरकार

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...