Saturday, August 27, 2016

नियोजित शिक्षकों को मिल सकती है ऐच्छिक तबादले की सुविधा।

परिहार (सीतामढी)।राज्य के करीब साढ़े तीन लाख नियोजित शिक्षकों का तबादला अब मनपसंद जगहों पर हो सकेगा. शिक्षा विभाग उनकी सेवा शर्त के निर्धारण में जुटा हुअा है. सूत्रों का कहना है कि सेवा शर्त में इन शिक्षकों को कम-से कम एक बार एेच्छिक तबादले की सुविधा को शामिल किया जा सकता है. फिलहाल नियोजन इकाई के स्कूलों में ही उनका तबादला हो सकता है. सेवा शर्त के प्रस्ताव को पहले विभाग के प्रधान सचिव की अध्यक्षता में गठित कमेटी के सामने रखा जायेगा. इसके बाद इस पर शिक्षा मंत्री की भी सहमति ली जायेगी तब नियोजित शिक्षकों की सेवा शर्त अंतिम रूपतय हो पायेगी. हालांकि, प्रधान सचिव की अध्यक्षतावाली कमेटी की एक साल से अधिक समय होने के बाद भी कोई बैठक नहीं हो सकी है. शिक्षक संगठनों की मांग के बाद पिछले दिनों ही शिक्षा मंत्री डाॅ अशोक चौधरी ने माध्यमिक शिक्षा और प्राथमिक शिक्षा निदेशालय को शिक्षक संगठनों से बातचीत कर सुझाव लेने का निर्देश दिया है. उनके सुझावों को सेवा शर्त के प्रस्ताव में रखा जायेगा. शिक्षा मंत्री के निर्देश के बाद माध्यमिक शिक्षा निदेशालय हाइ व प्लस टू स्तर से वैसे शिक्षक संगठनों को, जो मुख्य सचिव के साथ वार्ता में शामिल थे, एक सितंबर को सुझाव देने को कहा है. वहीं, प्रारंभिक स्कूलों के शिक्षक संगठनों को भी सितंबर के पहले सप्ताह में सुझाव देने का मौका दिया जायेगा. समान काम-समान वेतन है मुख्य मांग : नियोजित शिक्षक सेवा शर्तों में समान काम के लिए समान वेतन देने की मांग कर रहे हैं. पुराने वेतनमान वाले शिक्षकों को उनसे कहीं ज्यादा वेतन मिलता है, जबकि नियोजित शिक्षकों के लिए जुलाई, 2015 से नया वेतनमान दिया जा रहा है. नियोजित शिक्षक ऐच्छिक तबादले की मांग भी कर रहे हैं. इसके अलावा पेंशन स्कीम से भी जोड़ने की लगातार शिक्षक मांग करते रहे हैं अौर जितने भी अप्रशिक्षित शिक्षक हैं, उन्हें एक साथ प्रशिक्षित कराने की भी वकालत करते रहे हैं.

Thursday, August 25, 2016

टोला सेवक एंव शिक्षा स्वयं सेवक को पांच माह से मानदेय भुगतान नही

टोला सेवक एंव शिक्षा स्वयं सेवक को पांच माह से मानदेय भुगतान नही होने के कारण इनके समक्ष भुखमरी की हालत उत्पन्न हो गईं है।
       परिहार संघ ने जिला कार्यक्रम पदाधिकारी साक्षरता सीतामढी से मानदेय भुगतान करने की मांग की गई है।

Tuesday, August 23, 2016

जमुई में ब्रेन हेम्रेज से प्रखंड शिक्षक की मौत

बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ ने, ढ़ाई लाख रुपया का सहयोग राशि देने का लिया निर्णय

23-08-16 को प्रातः 3 बजे प्रखंड शिक्षक योगेन्द्र मंडल ums बिचला कटौना , प्रखंड बरहट, जिला जमुई का निधन ब्रेन हेम्रेज के कारण हो गया है।
सैकड़ों शिक्षक ने उनके पार्थिव शरीर के स्कूल पहुँचते ही भावभीनी श्रधांजलि अर्पित किया |

साथ ही बिहार पंचायत नगर प्रारंभिक शिक्षक संघ के बरहट प्रखंड अधयक्ष महेश शर्मा की अध्यक्षता में अपात बैठक कर जिला सचिव रवि यादव के नेतृत्व में बरहट प्रखंड के सभी शिक्षकों ने एक दिन का वेतन के रूप में  कुल ढ़ाई लाख रुपया स्व. शिक्षक के परिजन को बतौर सहयोग राशि के रूप में देने का निर्णय लिया है |

वही प्रदेश सचिव आनंद कौशल सिंह श्रधांजलि अर्पित करने के बाद डीईओ जमुई से अबिलम्ब स्व. योगेन्द्र मंडल के परिजन को 20 लाख रुपया बतौर मुआवजा व नौकरी देने की भी मांग की है |
        
        

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...