Click here online shopping

Sunday, January 01, 2017

इन्साफ इंडिया एक नजर

Mustaquim Siddiqe
----------------------------------
दोस्तों इंसाफ इन्डिया अधिकारिक रूप से 14/11/2016 को बनी और इतने कम समय में स्वार्थरहित एवं निष्ठावान कार्यकर्ताओं ने अपनी कड़ी एवं कठोर परिश्रम के द्वारा इंसाफ इन्डिया को स्थापित कर दरवाजे - दरवाजे तक न्याय , अधिकार , मानवता एवं समानता के लिए लोगों के बीच अपने मिशन पर कार्य कर रही है l झारखंड राज्य के कई ज़िलों में आज इंसाफ इन्डिया को एक बड़े बदलाव लाने वाली मुहीम की तरह देखा जा रहा है और उस मुद्दे पर हम अग्रसर हैं l

इसी बीच इंसाफ इन्डिया ने कई मुद्दे को ऊजागार भी किया । धर्म , जाती एवं  समुदाय से ऊपर उठकर आवाजें बुलंद की , देश के संविधान एवं कानून का पालन करते हुए हम सड़क से संसद तक एक बड़े संघर्ष की तैयारी कर रहे हैं ज़िसका पहला चरण एक विशाल सभा के रूप में गिरीडीह ज़िला के गांडे प्रखंड से होने जा रहा है । इस विशाल सभा से पहले झारखंड के कई ज़िलों में लगातार चौपाल कार्यक्रम का आयोजन किया गया जो आज भी जारी है और लगातार जारी रहेगा l

यह मुहीम हर उस परिवार , समुदाय , जाती एवं धर्म के लोगों के साथ है जो किसी भी तरह के अत्याचार , अन्याय एवं जुल्म का शिकार हो रहे हैं या भविष्य में होगा l

इंसाफ इन्डिया किसी भी धार्मिक या राजनीतिक संगठन द्वारा समर्थित या प्रायोजित मुहीम नही है , यह आपका , हमारा और हम सबका है l यह देश के हर आम नागरिक का , आम नागरिक द्वारा , आम नागरिक के लिये चलाया गया मुहीम है l

हम जल्द ही झारखंड के सारे ज़िलों में अपने कार्यक्रम को पूर्ण रूप से स्थापित कर दुसरे राज्य में चौपाल कार्यक्रम की शुरूआत करेंगें l

हमें आशा है के देश का हर नागरिक न्याय , अधिकार , मानवता एवं समानता के इस संघर्ष में इंसाफ इन्डिया के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कदम ब कदम साथ देगा और देश में शांति लाने के लिये एक साथ आवाजें बुलंद करेगा l

No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...