Click here online shopping

Thursday, October 19, 2017

दीपों का पर्व दीवाली मुबारक मुबारक मुबारक हो

*मान* मिले *सम्मान* मिले,
             *सुख - संपत्ति* का *वरदान* मिले. 
*क़दम-क़दम* पर मिले *सफलता*,
                  *सदियों* तक पहचान मिले।
आपको एवं आपके   परिवार के सभी सदस्यों को   दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ..

*मोहम्मद कमरे आलम*


No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...