Click here online shopping

Monday, October 23, 2017

सभी बाढ़ पीड़ित परिवार को राहत राशि नही मिलने पर मुखिया संघ और वार्ड संघ का एक दिवसीय धरण आयोजित

बाढ़ पीड़ित परिवार को राहत राशि नही मिलने व प्रखंड कार्यालय, अंचल कार्यालय में व्याप्त भ्रष्टाचार के विरुद्ध  मुखिया संघ और वार्ड संघ, पंचायत समिति संघ राजनीतिक दलों के कार्यकर्ताओं ने संयुक्त रूप से परिहार प्रखण्ड मुख्यालय के सामने  एक दिवसीय धरना  मुखिया संघ की अध्यक्ष श्रीमती सपना कुमारी की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई सभा का सफल संचालन वार्ड संघ अध्यक्ष विनय पासवान ने किया।सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अगर तीन दिनों के अंदर सभी बाढ़ पीड़ित परिवार के खातों में बाढ़ राहत राशि का हस्तांतरण नही होता है तो प्रखण्ड कार्याल की घेराबंदी होगी और माँगों के समर्थन में जिला प्रशासन के समक्ष अनशन किया जाएगा।

प्रखण्ड व अंचल कार्यालय में अनियमितताओं और भ्रष्टाचार का बाज़ार गर्म है और आम जनता परेशान है।आर टी पी एस सेवा ध्वस्त हो चुकी है समय सीमा के अंदर दाखिल-खारिज नही होता वही प्रखण्ड शिक्षा कार्यालय, अवर निबंधन कार्यालय आपूर्ति कार्यालय अतिरिक्त प्रभार के पदाधिकारियों के सहारे चलाया जा रहा है जिसका खामियाजा आम लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

पशु बाजार भिस्वा में अंचल अधिकारी की मिलीभगत से पशु बिक्री रशीद कम काट कर राजस्व की चोरी की जा रही है।

सभा को संबोधित करते हुए राकेश कुमार सिंह ने कहा कि पदाधिकारी अपने कार्य संस्कृति में सुधार करें और विचौलिया प्रवृति से दूर रहें ।वित्तीय वर्ष 2016-2017 की पोशाक राशि, छात्रवृति राशि अभी तक छात्रों के खाते में हस्तांतरित नही की गई

धरना समाप्ति के उपरान्त महामहिम राज्यपाल बिहार सरकार को सम्बोधित माँग पत्र अंचल अधिकारी की अनुपस्थिति के कारण उनके द्वारा नियुक्त कर्मी को 13 सूत्री माँग-पत्र सौंपा।धरना को मुख्यरूप से  शेखर यादव, अजय पटेल, राकेश कुमार सिंह, मुहम्मद सऊद आलम, विनय पासवान, पीताम्बर सिंह, चंदेश्वर प्रसाद यादव, तमन्ने मुहम्मद यूसुफ, अखिलेश ठाकुर आदि वक्ताओं ने संबोधित किया।


No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...