Click here online shopping

Friday, August 17, 2018

परिशिष्ट 1 में शामिल 19 शिक्षा स्वयं सेवकों से जाँच प्रतिवेदन भेजवाने के नाम पर प्रति स्वयं सेवक से बीस हजार रुपये की अवैध वसूली। जाँच के नाम पर खाना पूरी

सेवा में,
निदेशक जन शिक्षा
शिक्षा विभाग बिहार पटना ।

सचिव
शिक्षा विभाग बिहार पटना।
प्रधान सचिव
शिक्षा विभाग बिहार पटना

विषय:- परिशिष्ट 1 में शामिल 19 शिक्षा स्वयं सेवकों से जाँच प्रतिवेदन भेजवाने के नाम पर प्रति स्वयं सेवक से बीस हजार रुपये की अवैध वसूली।
जाँच के नाम पर खाना पूरी ।

महाशय,

सीतामढ़ी ज़िला अन्तर्गत वर्ष 2016 में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी साक्षरता सीतामढ़ी के द्वारा शिक्षा स्वयं सेवकों का चयनोंप्रांत प्रशिक्षण देकर केंद्र संचालित किया गया था और मानदेय भुगतान मद में निदेशक जन शिक्षा पटना से आवंटन की माँग की गई थी आवंटन तो नही भेजा गया चयन प्रक्रिया की जाँच का पत्र उप सचिव शिक्षा विभाग बिहार पटना द्वारा पत्रांक 2423 दिनांक 20.09.2017 जो ज़िला पदाधिकारी सीतामढ़ी को संबोधित था।जिला पदाधिकारी सीतामढ़ी ने जाँच हेतु तीन सदस्यीय जाँच टीम बना कर जाँच कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश दिया था।  परिशिष्ट 1 में शामिल 19 शिक्षा स्वयं सेवकों से जाँच प्रतिवेदन भेजवाने के नाम पर प्रति स्वयं सेवक से बीस हजार रुपये की अवैध वसूली जिला तालिमी मरकज़ संघ सीतामढ़ी के  पदाधिकारियों के द्वारा की गई है और दी गई है।
जाँच टीम ने जाँच के नाम पर सिर्फ खाना पूरी की गई चयन प्रक्रिया की तथ्यात्मक जाँच नही की गई है।मालूम हो कि ऐसे भी स्कूल में तालीमी मरकज़ शिक्षा स्वयं सेवक का नियोजन किया गया है जिस स्कूल में एक भी मुस्लिम समुदाय का बच्चा नहीं पढ़ता है। उदाहरण स्वरूप परिहार प्रखण्ड का मध्य विद्यालय परिहार कन्या ऐसे बहुत सारे विद्यालय हैं।
अंकनियहै कि
1.प्रत्येक केन्द्र पर एक ही आवेदक हैं। क्या  सही तरीके से प्रचार प्रसार कर नियोजन की प्रक्रिया की जाए तो ऐसा होगा ? जहाँ मानदेय के रूप में 8000/ रुपये मिलता हो ?
2.नियोजन से पूर्व केंद्र स्थल का चयन होना चाहिए क्या ऐसा हुआ ?
3.स्थल चयन के बाद केन्द्र पर नामांकित होने वाले माता पिता/अभिभावकों की आम सभा बुला कर संचालन समिति गठित करने का प्रावधान है क्या आम सभा के लिए लिखित रूप में सूचना का प्रकाशन किया गया ?

4.आवेदन करने के लिए लिखित सूचना प्रकाशित की गई ?
5.प्राप्त आवेदनों का संधारण किया गया ? आपत्ति दर्ज करने का समय दिया गया ?
6.क्या प्रखण्ड शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय द्वारा रिक्तियों का प्रकाशन किया गया ?
जाँच में इन सभी बातों को सामने रखा जानी चाहिए था।

जाँच पदाधिकारी ने सूची में सम्मिलित अल्पसंख्यक समुदाय के सामान्य जाति के शिक्षा स्वयं सेवी की कोई जाँच नही की और न ही पक्ष जाना।

विश्वास भाजन
मोहम्मद कमरे आलम
एकडण्डी, परिहार
सीतामढ़ी 843324

No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...