Friday, December 14, 2018

डी एल एड प्रशिक्षु शिक्षक ध्यान दें

*NIOS क्षेत्रीय कार्यालय से प्राप्त सूचनाएं*
*आज 10-12-2018 दिन सोमवार को NIOS क्षेत्रीय कार्यालय पटना में NIOS कर डाइरेक्टर प्रशांत कुमार जी से प्रशिक्षु शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं पर बातचीत की गयी जिसकी विस्तृत जानकारी निम्न है : -*
1. *509/510 में सुधार*
*जवाब* : जिन लोगों ने निर्धारित समय के अंदर लिंक से सुधार नही किया था उसके बाद अगर उन्होंने क्षेत्रीय कार्यालय पटना को आवेदन दिया था तो उनका सुधार हो जाएगा ।
2. *नामांकन के समय हुए त्रुटियों में सुधार*
*जवाब* : जिन साथी का फॉर्म भरते समय कुछ भी गलती हो गया है और सुधार नही हुआ है तो उसके लिए अंतिम मौका 15 दिसम्बर के बाद NIOS के वेबसाइट पर लिंक द्वारा दिया जाएगा जिसके माध्यम से सुधार किया जा सकता है।
3: *501/502/503/504/505 के किसी भी विषय के परिणाम में AB दिखाना*
*जवाब* : जो साथी परीक्षा में शामिल हुए है और उनके किसी विषय के परिणाम में AB दिखाया जा रहा है वो अविलंब क्षेत्रीय कार्यालय में अंक पत्र की छायाप्रति , पहचान पत्र की छायाप्रति के साथ एक आवेदन जमा करे सुधार हो जाएगा।
4. *किसी भी विषय के परीक्षा परिणाम में SYCT दिखाना*
*जवाब* : - किसी का पहले से 501/502/503 विषय मे SYCT दिखाई दे रहा है और दुबारा परीक्षा देने के बाद भी अगर परिणाम वही है या जिनका 504/505 में SYCT दिखाई दे रहा है वो इंतजार करे सुधार होगा अन्यथा फाइनल परीक्षा के साथ या बाद में सभी विषयों को पास करने के लिए एक मौका और दिया जाएगा जिसके लिए सूचना वेबसाइट पर दी जाएगी ।
5. *जिनका इंटर में 45 % से कम मार्क्स है* *या जिन्होंने नामांकन कराया है और परीक्षा नही दी ।*
*जवाब* ऐसे साथी इंटर में नामांकन अविलम्ब करा लें ।
और जो नामांकन करा चुके है किसी कारणवश परीक्षा नही दे पाए उन्हें इसके लिए मौका NIOS के द्वारा दिया जाएगा ।
6. इसके अतिरिक्त यदि किसी प्रकार की कोई भी समस्या हो तो NIOS के क्षेत्रीय कार्यालय , ललित भवन , बेली रोड पटना से संपर्क किया जा सकता है ।
*स्त्रोत : NIOS क्षेत्रीय कार्यालय पटना*

Md shahid Ali


















मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के नाम पैग़ाम

Thursday, December 13, 2018

राहुल जी, राष्ट्रीय अध्यक्ष भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी नई दिल्ली से माँग

राहुल जी, राष्ट्रीय अध्यक्ष
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी।नई दिल्ली

सर्वप्रथम आपके कुशल नेतृत्त्व में तीन बड़े हिंदी भाषी राज्यो में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की जीत की हार्दिक  बधाई  व् शुभकामना।
   महोदय 2009 में तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह जी ने  सम्पूर्ण साक्षरता अभियांन के तहत  केंद्र प्रायोजित अत्यंत महत्वाकांक्षी साक्षर भारत मिशन का शुभारम्भ किया था जिसे जन विरोधी मोदी सरकार ने 31 मार्च 18 को बन्द कर देश  भर में 6.5 लाख कर्मी प्रेरक समन्वयको को बेरोजगार कर भुखमरी के शिकार  जिल्लत और जलालत की जिंदगी जीने को विवश कर दिया है।
     महोदय साक्षर भारत मिशन संघ के प्रतिनिधि साथी आपसे व्यकिगत मिलकर अपनी पीड़ा से अवगत कराते हुए सेवा नियमित करने हेतु सकारात्मक पहल करने का अनुरोध किया है।
     महोदय, आग्रह है वरान शीतकालीन सत्र में इस विषय को लोकसभा में प्रश्न के माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट कराते हुए 6.5लाख सेवा से विस्थापित प्रेरको समन्वयको की सेवा समायोजित /नियमित कराने  की दिशा में पहल किया जाय।
    नागेन्द्र कुमार पासवान,मुख्य कार्यक्रम समन्वयक
 साक्षर भारत मिशन सीतामढ़ी बिहार  
राष्ट्रीय  संयोजक 
अखिल भारतीय साक्षर भारत मिशन कर्मी महासंघ
 9473088097/8340662900

 

Tuesday, December 11, 2018

विशेष रिपोर्ट :- पाँच राज्यो के विधान सभा चुनाव के नतीजो की समीक्षा करते हुए माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं बी जे पी राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से नागेन्द्र कुमार पासवान ने किया माँग

नागेन्द्र कुमार पासवान
---------------------------

 साक्षरता अभियान कार्यक्रम के तहत 15 +आयु वर्ग के असाक्षरों को साक्षर कर विकास की मुख्यधारा से जोड़ने हेतु   देश स्तर पर संचालित अत्यंत महत्वाकांक्षी योजना"साक्षर भारत मिशन अभियान का मानव सन्साधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर जी की जनविरोधी शिक्षा नीति एवम्   केंद्र सरकार  की इच्छा शक्ति की कमी  के कारण 31 मार्च 18 के बाद कार्यावधि विस्तार रोक दिए जाने के फलस्वरूप देश स्तर पर 6.5 कर्मी बेरोजगार भुखमरी के शिकार,घर - घर में शिक्षा का दीप जलाने वाला साक्षरता कर्मी उपेक्षित ,उपहास का पात्र, जिल्लत और जलालत की जिंदगी जीने को विवश है।

          महोदय, साक्षर भारत मिशन कार्यक्रम के तहत ग्राम,पंचायत,प्रखण्ड/ताल्लुका/हल्का एवम् जिला स्तर पर कर्मियो का सुसंगठित अनुशासित प्रबन्धकीय ढांचा है जो अत्यंत प्रभावकारी रहा है।
       विभागीय कार्यो के अतिरिक्त समय समय पर सामाजिक कल्याण के अन्य गतिविधियों में सक्रिय एवम् सराहनीय भूमिका निभाया है।
  शिक्षा का अधिकार अधिनियम,स्वच्छता अभियान, मतदाता जागरूकता अभियान,मद्य निषेध अभियान,बाल विवाह एवम् दहेज़ प्रथा उन्मूलन अभियान को सफल बनाया तथा बिहार को राष्टीय  प्रसास्ति पत्र दिलवाने व् बिहार का नाम लिम्का बुक ऑफ़ रिकॉर्ड में नामित कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया है।
    महोदय ,यद्यपि रोटी कपड़ा और मकान के बाद शिक्षा और स्वास्थ्य आम जन की मौलिक आवश्यकता बन गई है। शिक्षा को मौलिक अधिकार का दर्जा भी दिया गया है ।शिक्षा समवर्ती सूची में होने के कारण सबको शिक्षा एवम् मुफ़्त शिक्षा उपलब्ध कराना केन्फ्र व् राज्य सरकार की संयुक्त नैतिक एवम् संवैधानिक दायित्व है।
    महोदय,शिक्षा वक्ष की कुंजी है और साक्षरता इसकी पहली सीढ़ी। शिक्षा के बिना स्वच्छ्ता स्वास्थ्य  सामाजिक सद्भभाव समरसता व् सम्यक विकास की परिकल्पना सर्वथा बेईमानी होगी।
     महोदय,बिहार सहित अन्य  राज्यो में संविदा कर्मी की सेवा स्थायी करने हेतु गठित  कमिटी को भी निदेशक जन शिक्षा बिहार ने अनुसंशा के लिए कर्मियो की सूचि नहीं भेजा है।
     महोदय,देश स्तर पर साक्षरता कर्मियो का आन्दोलान पराकाष्ठा पर है।
    लोक सभा राज्य सभा में भी इस संबंध में माननीय सदस्यों द्वारा विभागीय मंत्री के माध्यम से सरकार का ध्यान आकृष्ट कराया जता रहा है।किन्तु अभी तक प्रयास बेनतीजा ही रहा है।
   महोदय 5 राज्यो का चुनाव 2019 के आम चुनाव के लिए आईना है।
   महोदय,जब तक नयी योजना "पढ़ना लिखना अभियान "लागू करने में कतिपय बिलम्ब या तकनीकी परेशानी है ,तब तक के लिए पुराने शर्तों पर ही भुत लक्ष्य प्रभाव से आम लोक सभा चुनाव तक के लिए "साक्षर भारत मिशन योजना को ही कार्यावधि विस्तार देते हुए सभी नियोजित कर्मी की सेवा जीवन्त कर दिया जाय। 
    ताकि आम लोक सभा चुनाव में कर्मियो का असन्तोष  व् गुस्सा पर विजयी पाया जा  सके।
  पुनः नई योजना में इन कर्मी को समायोजित कर दिये जाय।
    नागेन्द्र कुमार पासवान , मुख्य कार्यक्रम समन्वयक साक्षर भारत सीतामढ़ी 
महामंत्री भारतीय मजदूर संघ सीतामढ़ी
संयोजक 
अखिल भारतीय साक्षर भारत मिशन कर्मी महासंघ
9473088097/8340662900


مولانا محمد علی جوہر

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...