Click here online shopping

Friday, January 11, 2019

25 प्रखंड शिक्षकों की सेवा समाप्त की गई ,वेतन के रूप में ली गई राशि के वसूली का बीइओ को आदेश

सीतामढ़ी।डीएम डॉ0 रंजीत कुमार सिंह के निर्देश पर बैरगनिया बीडीओ सह प्रखंड नियोजन इकाई के सचिव विजय कुमार मिश्रा ने 25 प्रखंड शिक्षकों  को सेवा मुक्त करते हुए बीईओ से शिक्षकों द्वारा ली गयी मानदेय की राशि वसूली का निर्देश दिया है।बीडीओ ने आदेश निर्गत कर बैरगनिया के प्रखंड शिक्षक नुसरत जहाँ,फिरदौश खानम,विजय शंकर शर्मा,उषा कुमारी,साजदा खातून,शहनाज बेगम,राजेन्द्र महतो,मनीषा कुमारी,नीलम कुमारी,रफत जहाँ, अहमद रेजा उस्मानी,गणेश कुमार,दीपा श्री,जितेंद्र कुमार रंजन,इनामुल्लाह,रेखा कुमारी,कुमारी पिंकी,एकरमुल्लाह,अर्चना कुमारी,रागनी कुमारी,हसिरा बेगम,नसरुल्लाह,रौशन तारा,ललिता कुमारी व अंजर कमाल को सेवा मुक्त किया है।मालूम हो कि निगरानी अन्वेषण ब्यूरो ने बर्ष-2015 में बैरगनिया प्रखंड में बर्ष-2010 में हुई शिक्षक नियोजन में नियोजित 27 शिक्षकों पर बैरगनिया थाना में गलत तरीके से नियोजित होने की एफआईआर दर्ज कराते हुए सेवा मुक्त कर मानदेय की वसूली करने का निर्देश दिया था।इसी क्रम में डीपीओ स्थापना ने जमुआ मिडिल स्कूल के प्रखंड शिक्षक ऋषि कुमार को दोष मुक्त करार कर दिया वही ब्यूरो ने प्रखंड शिक्षिका रेणु कुमारी को दोष मुक्त कर दिया फलतः विरोधवासी पत्र प्राप्त होने के कारण मामला विभिन्न पदाधिकारियों की जांच,आरोपित शिक्षकों से स्पष्टीकरण पूछे जाने फिर उक्त मामले को शिक्षकों द्वारा माननीय उच्च न्यायालय में ले जाने के कारण आगे की करवाई को स्थगित कर दिया गया लेकिन 7 जनवरी 19 को डीएम ने बीडीओ को पत्र लिखा जिसमें उक्त वाद में शिक्षकों की जमानत याचिका खारिज होने की स्थिति में आरोपित 25 शिक्षकों को सेवा मुक्त करते हुए मानदेय की वसूली का निर्देश दिया था।बीडीओ ने सभी सम्बंधित शिक्षक के साथ-साथ विद्यालयों को भी आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा है।

No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...