Saturday, February 09, 2019

न्यायदेश आने से पूर्व तालीमी मरकज़ शिक्षा सेवक की बहाली करना अनुचित है :- मोहम्मद कमरे आलम

मोहम्मद कमरे आलम ने एक ब्यान जारी कर कहा है कि तालीमी मरकज़ में विगत आठ साल से काम कर रहे शिक्षा स्वंय सेवक (सामान्य जाति) अल्पसंख्यक मुस्लिम को वर्ष 2018 में निदेशक जन शिक्षा पटना के आदेश पर यह कहते हुए सेवा से सेवा मुक्त कर दिया गया कि आप सामान्य जाति के हैं इस लिए आप का नियोजन अवैध है सेवा से हटाए जाने के बाद हटाये गए शिक्षा स्वंय सेवक सामान्य इंसाफ के लिए माननीय उच्च न्यायालय पटना में रिट याचिका दायर किये हुए हैं जहाँ से आदेश आना अभी बाकी है इसी बीच बिहार सरकार द्वारा तालीमी मरकज़ के रिक्त पदों पर बहाली की प्रक्रिया शुरू कर दी है जो बिल्कुल गलत है।उन्होंने कहा कि न्यायदेश आने से पूर्व तालीमी मरकज़ शिक्षा सेवक की बहाली करना बिल्कुल ही अनुचित है। मोहम्मद कमरे आलम ने सरकार से माँग किया है कि न्यायदेश आने तक बहाली प्रक्रिया पर रोक लगाया जाए।

No comments:

विशिष्ट पोस्ट

सामान्य(मुस्लिम)जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को हटाने से संबंधित निर्णय को वापस ले सरकार वरना सड़क से लेकर संसद तक होगा आंदोलन :- मोहम्मद कमरे आलम

आठ वर्षों से कार्य कर रहे सामान्य मुस्लिम जाति के शिक्षा स्वयं सेवी(तालीमी मरकज़) को एक झटके में बिहार सरकार द्वारा सेवा से यह कह कर हटा दिया...